Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य

Spread the love

Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य

दोस्तों स्वागत है आपका फिर से कहानी संसार में| आज की कहानी Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य बहुत छोटी है पर इसकी सीख बहुत अच्छी है| हममें से कई लोगो को अक्सर अपने ज्ञान का घमंड हो जाता है, पर कई बार वो घमंड एक पल में समाप्त हो जाता है|

ये बात है प्राचीन यूनान की| यूनान में उन दिनों एक बहुत बड़ा भविष्यवक्ता आया था| सब उसके ज्ञान को देख कर उसका बहुत सम्मान करते थे| उस भविष्यवक्ता को भी अपने ज्ञान का बहुत घमंड था|

एक रात को आसमान में तारों का अध्ययन करते हुए वो चला जा रहा था| अचानक वो कुएं में गिर गया| उसके गिरने और सहायता के लिए आवाज लगाने से पास ही एक झोपड़ी में रहने वाली बुढ़िया उसकी सहायता के लिए वहां आ गई|

उसने अपनी बुद्धि  के प्रयोग से जैसे तैसे उस भविष्यवक्ता को कुएं से बाहर निकाला|

अपने प्राण बच जाने पर वह बहुत खुश हुआ| और बुढ़िया से बोला – आप नहीं आती तो आज मैं सच में मारा जाता|

बुढ़िया ने कहा – हाँ, पर कोई बात नहीं| सब ईश्वर की कृपा से हुआ है| मेरी नींद नहीं लगी थी, इसलिए आपकी मदद कर पाई|

और इतना कह कर बुढ़िया झोपड़ी की तरफ जाने लगी| भविष्यवक्ता ने सोचा कि शायद बुढ़िया उसे नहीं जानती है इसलिए चुपचाप जा रही है| शायद जब वो उसे अपने बारे में बताएगा तो वो उसका सम्मान करेगी|

उसने बुढ़िया से कहा- आपको पता है मैं कौन हूँ ? मैं एक बहुत बड़ा ज्योतिषी हूँ, साधारण आदमी मुझसे परामर्श का शुल्क नहीं दे सकता है| राजा-महाराजा और बड़े बड़े अमीर व्यक्तियों को भी मुझसे परामर्श लेने के लिए महीनो तक का इंतजार करना पड़ता है|

लेकिन मैं आपसे कोई शुल्क नहीं लूँगा, क्योंकि आपने मेरी जान बचायी| आप कल मेरे घर आओ मैं मुफ्त में आपका भविष्य बताऊंगा|

भविष्यवक्ता ने सोचा था कि उसकी ये बात सुनकर बुढ़िया अपने भाग्य को सराहेगी| उसका आदर सत्कार करेगी, पर बुढ़िया यह सुनकर बहुत हंसी और बोली – अच्छी बात है तुम ज्योतिषी हो, लेकिन मैं भविष्य से ज्यादा अपने कर्मों पर विश्वास करती हूँ इसलिए यह सब रहने दो| और तुम्हे अपना खुद का दो कदम आगे का तो दिखाई नहीं देता, मेरा भविष्य क्या बताओगे?

 Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य , अनमोल वचन
Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य

ज्योतिषी का घमंड वही चकनाचूर हो गया| वो कुछ न बोला और चुपचाप वहां से चल दिया|

दोस्तों जीवन में अपने ज्ञान का घमंड हर स्थान पर प्रदर्शित करना सही नहीं होता है| दूसरी बात जिस व्यक्ति को खुद के बारे में ये पता नहीं की आज उसका भविष्य क्या होगा ? क्या वह दूसरो का सही भविष्य बता पायेगा| अपने कर्मों पर विश्वास रखें| और अपने ज्ञान का अहंकारपूर्ण प्रदर्शन हर जगह करना सर्वथा अनुपयुक्त है|

इस प्रकार अक्सर हममें से कुछ लोग ज्योतिष की बातों पर आँख मूँद कर कर विश्वास कर लेते है और ज्योतिष से जुड़े लोगो को बहुत ज्यादा महत्व देते है| लेकिन समझदार व्यक्ति उस बुढ़िया की भांति अपने कर्मो में विश्वास रखता है और ऐसी बातों से दूर ही रहता है|

यहाँ क्लिक करें और यह कहानी भी पढ़े – ये कहानी आपको कर्म करने के लिए प्रेरित करेगी

आपको यह कहानी Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य और उसकी सीख कैसी लगी ? आप किस प्रकार की कहानियाँ कहानी संसार पर पढ़ना चाहते है। कमेन्ट बाॅक्स में जाकर जरूर बताएँ।

यह भी पढ़े – झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के जीवन से जुड़े 67 रोचक तथ्य

आपके पास भी  अगर कोई motivational article, tips या आपके जीवन का कोई ऐसा अनुभव जो किसी के लिए Motivation बन सकता है तो उसे हमारे साथ साझा करें|

अगर आप कोई लेख(essay) लिख सकते है , कविता (poem), कहानी (story) या अन्य कोई भी सामग्री जो लोगों को knowledge, information, entertainment प्रदान कर सकें तो आप उसे हिंदी में लिख कर मुझे जरूर भेजें l

आपके द्वारा भेजी गई सामग्री को आपके नाम के साथ और फोटो ,पता आदि के साथ यदि आप चाहे , प्रकाशित करेंगे l

कहानी संसार की कहानियो की निरंतर सूचना पाने के लिए कहानी संसार को सब्सक्राइब करना न भूलें। कहानी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें|

नोट – यहां साझा की गई यह कहानी Short but good Hindi motivational story about Karma and astrology दो कदम का भविष्य मेरी मूल रचना नहीं है। मैंने इसे पहले पढ़ा है या सुना है और मैं कुछ संशोधनों के साथ ही इसका एक हिंदी संस्करण प्रदान कर रहा हूं। मेरा मूल उद्देश्य कहानियो के माध्यम से समाज को प्रेरित करना और अपने पाठको का मनोरंजन करना है|

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *