Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी  

Spread the love

Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी  

आत्मा,  भूत प्रेत, शापित और भुतहा स्थान और वस्तुओं के बारे में हम सब कभी कभी न अपने जीवन में बातचीत जरुर करते है| इनमें से कुछ लोग भूत-प्रेत और शापित चीजों पर विश्वास करते है और कुछ नहीं| कहानी संसार में आज हम Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी के बारे में जानेंगे | 

इस गुड़िया को देखिये –

Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle
Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle

कांच के बॉक्स में कैद यह गुड़िया शायद आपको बहुत सुन्दर और प्यारी लग रही होगी| लेकिन प्यारी सी लगने वाली इस गुड़िया के अन्दर बहुत डरावने रहस्य छुपे हुए है |

शायद आप में से कई लोग Annabelle Doll के बारे में बहुत अच्छी तरह जानते हो और शायद कुछ बिलकुल नहीं| Annabelle Doll एक शापित गुड़िया है| जो आज भी The warren occult museum में रखी है| यह म्यूजियम रहस्यमयी और शापित चीजों के लिए जाना जाता है| जो कि 60-122 Lynn Dr, Monroe, CT 06468, USA में स्थित है|

वहां Annabelle Doll को कांच के एक बॉक्स में तंत्र मन्त्र से बांध कर बंद कर के रखा गया है| इस के ऊपर सख्त चेतावनी है कि इस बॉक्स को दूर से ही देखा जाये| और इसे छूने का प्रयास न किया जाये|

इस गुड़िया के से सम्बन्धित कई डरावनी फिल्मे होलीवुड में बन चुकी है| जिनमें 2013  में आई The Conjuring’ movie इस गुड़िया की सच्ची कहानी पर आधारित है| 

हालाँकि फिल्म की गुड़िया और वास्तविक गुड़िया में अंतर है| कहानी को रोचक और गुड़िया को डरावनी दिखाने के लिए एक नई गुड़िया बनायीं गयी थी|

Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी के बारे में जानेंगे|
Annabelle doll in movie                  and                          the Real Annabelle doll

आप सोच रहे होंगे कि USA के एक छोटे से म्यूजियम में रखी एक गुड़िया के बारे में इतनी डरावनी बातें क्यों की जा रही है ?  और एक गुड़िया कैसे इतनी डरावनी हो सकती है ? तो हम आपको इसकी कहानी शुरू से बताते है|

इस कहानी  शुरुआत होती है 1970 ई. से सयुंक्त राज्य अमेरिका के एक शहर में डोना नाम की एक लड़की की माँ अपनी बेटी को उसके जन्मदिन पर कुछ एंटिक चीज़ देना चाहती थी|  इसलिए उसने एक स्टोर से एंटिक सी दिखने वाली गुड़िया अपनी बेटी को जन्मदिन के उपहार के रूप में दे दी| डोना को पुरानी चीजों का बहुत अधिक शौक था| गुड़िया पा कर वो बहुत खुश थी |

डोना उस वक़्त नर्सिंग की पढाई कर रही थी तथा एक अपार्टमेंट में अपनी फ्रेंड अनंगी के साथ रहती थी। डोना अपनी माँ द्वारा दी गई डॉल को अपने बेड पर एक कोने में सज़ा देती है।

लेकिन गुड़िया के घर में आने के कुछ ही दिनों में  डोना और अनंगी को उस डॉल के बारे मे कुछ अजीब सा, डरावना सा अनुभव होने लगता है।

उन्होंने गौर किया कि गुड़िया को कॉलेज जाने से पहले वो जहाँ रख कर जाते थे वो उन्हें उस जगह से कुछ दूर ही मिलती थी |

शुरू में उन्होंने इस बात पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया क्योंकि उन्हें लगा कि ये उनके मन का वहम है| पर जैसे -जैसे दिन बीते तो उन्हें पक्का अनुभव हो गया कि उनकी गुड़िया अपने आप एक जगह से दूसरी जगह तक पहुँच जाती है|

कुछ दिनों बाद उन्होंने देखा कि जब वो कॉलेज से घर आते है तो गुड़िया उन्हें दूसरे कमरे मे, कभी सोफे पर  और कभी कुर्सी पर मिलती है। यहाँ तक की कमरा बंद होने के बावजूद गुड़िया अपनी जगह बदल लेती है।

गुड़िया को लाने के एक महीने के अन्दर ही उस घर में अजीब और रहस्यमय घटनाएँ होने लगी | अब उन्हें कमरो में चमड़े के कागज़ पर लिखे सन्देश मिलने लगते है।जबकि उनके घर में कहीं पर भी चमड़े के कागज़ नहीं थे |उन कागज़ पर ‘Help Me’ लिखा होता था तथा राइटिंग छोटे बच्चे की जैसी थी।

एक रात उन्हें डॉल की पीठ और सीने पर खून की बूंदे नज़र आती है। गुड़िया की आँखों में भी खून के आंसू नजर आते है |

Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी
Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी

डोना और उसकी सहेली बहुत ज्यादा डर जाते हैं| उन्हें लगता है कि इस गुड़िया में किसी की आत्मा है और वो आत्माओं से बात करने वाले एक तांत्रिक को मदद के लिए बुलाते है।

वो व्यक्ति उस गुड़िया की  आत्मा से बात करके पता लगाता है कि उसमे एक बच्ची एनाबेल की आत्मा है जो कि अपने बचपन में उसी जगह खेला करती थी| जहा आज वो अपार्टमेंट बना हुआ है| और सात साल की उम्र में उस लड़की की मृत्यु हो गयी| उस लड़की की लाश भी उसी जगह मिली थी।

वो कहती है उसे डोना का साथ अच्छा लगता है और वो उसके साथ ही रहना चाहती है। डोना भी उसे रहने की इज़ाज़त दे देती है पर शीघ्र ही डोना को महसूस होता ही कि उस गुड़िया में किसी बच्ची की आत्मा ना होकर कोई शैतानी आत्मा है।

डोना के एक दोस्त लू  को वह गुड़िया पसंद नहीं थी| लू ने डोना से उस गुड़िया को घर से बाहर फेंकने के लिए कहा था| अगले ही दिन लू , डोना को बताता है कि उस गुड़िया ने कल रात उसका गला दबा कर उसे मारने की कोशिश की|

डोना उसे समझाती है कि उसने शायद कोई बुरा सपना देखा है| लेकिन कुछ दिन बाद गुड़िया सच में लू पर हमला कर देती है| वो लू के शरीर से चिपक जाती है और उसके ऊपर वार करती है | जिससे उसकी शर्ट फट जाती है और उसके शरीर पर घाव हो जाते है| इस घटना से लू, अनंगी और डोना सभी बहुत ज्यादा डर जाते है|

इसके बाद डोना मदद के लिए एक बिशप ‘फादर हेगन’ से मिलती है। फादर हेगन को यह सब शापित आत्मा का मामला लगता है। इसलिए वो डोना को अपने सीनियर ‘फादर कुक’ के पास भेज देते है जो कि इन्वेस्टीगेशन के लिए पैरानॉर्मल एक्सपर्ट वारेन दंपती (एडवर्ड वॉरेन और लॉरेन रीटा वॉरेन) को बुलाते है।

वे दोनों उन तीनो फ्रेंड्स से बात करके और एक सप्ताह तक उस डॉल के व्यवहार का अध्ययन करने के बाद इस नतीजे पर पहुंचते है कि गुड़िया में वास्तव में कोई शैतानी आत्मा है जो डोना के शरीर में कब्ज़ा करना चाहती है।

उस घर को शापित आत्मा से मुक्त करने के लिए वारेन, फादर कूक द्वारा डोना के घर में एक अभिमंत्रित क्रिया करवाते है ताकि वहां से उस अतृप्त आत्मा के दोषों को दूर किया जा सके |

इसके बाद वे उस शापित गुड़िया को अपने साथ ले जाते है। लेकिन जल्दी ही उन्हें पता लगता है किउस गुड़िया की शैतानी ताकत बहुत ज्यादा है|

क्योकि वे जब उस गुड़िया को अपने साथ लेकर जा रहे थे तो उस गाडी के पॉवर ब्रेक और स्टेरिंग, मोड़ पर काम करना बंद कर देते है जिससे की गाडी इधर उधर टकरा जाती है।

वो समझ जाते है कि ये सब इस डॉल की शैतानी ताकत के कारण हो रहा है। वो अपनी गाडी को रोकते है और उस गुड़िया पर पवित्र और अभिमंत्रित जल छिड़कते है।  उसके बाद वो गुड़िया शांत होती है और वारेन सकुशल घर पहुंचते है।

वो उस डॉल को अपने ऑफिस में रख देते है। एक दो दिन बाद ही डॉल की पुरानी हरकते फिर शुरू हो जाती है। वारेन जाते हुए उसे एक कमरे में बंद करके जाते है पर वो आते है तो वो कभी उन्हें सीढ़ियों में तो कभी दूसरे कमरे में मिलती है।

एक बार फादर जैसन ब्रॅडफ्रेड, वारेन से मिलने उनके ऑफिस आते है तो वो उस डॉल को उठा के कहते है कि ये सिर्फ एक डॉल है ये किसी को कुछ नुकसान  नही पहुंचा सकती है। लेकिन जब फादर वहां से लौटते है तो रास्ते में ही उनका मेजर एक्सीडेंट हो जाता है और वो घायल हो जाते है।

Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी
 Haunted doll Annabelle

इसके बाद वारेन एक अभिमंत्रित बॉक्स बनाकर, डॉल को उसमे रखकर, अपने म्यूज़ियम में रख देते है। उसमे रखने के बाद उस डॉल में फिर कोई शैतानी प्रभाव नही दिखाई देता है।

लेकिन वारेन का मानना है कि उस शापित गुड़िया ने कांच के बॉक्स में बंद होने के बाद भी एक व्यक्ति को मार डाला था|

उन्होंने एक बार बताया था कि इस शापित गुड़िया को उनके म्यूजियम में देखने के लिए कई लोग आते थे लेकिन एक बार एक नौजवान दम्पती वहां आये थे| उन्होंने जब उसे उस डॉल की कहानी सुनाई तो वो शोकेस के पास जाकर उस डॉल का मज़ाक बनाने लगा।

उसने कहा कि वो इन सब बातों पर विश्वास नहीं करता है और अगर ये गुड़िया सच में किसी पर हमला कर सकती है, किसी इंसान के शरीर पर घाव बना सकती है तो ये मेरे साथ कुछ कर के बताए|

वारेन उस नौजवान को ऐसी बाते करने से रोकते है| और उसे उसी समय म्यूजियम से बाहर कर देते है|

लेकिन म्यूजियम से निकलने के कुछ समय बाद ही लड़के की रोड एक्सीडेंट में मृत्यु हो जाती है| वारेन को जब इस बात की खबर लगती है तो पहले वो सोचते है कि ये एक दुर्घटना है| लेकिन जब वो घटना की पूरी जानकारी के लिए अस्पताल जाते है तो वहां उन्हें उस नौजवान की दोस्त मिलती है जो उस दिन म्यूजियम में उसके साथ आई थी|

उस लड़की ने वारेन को बताया कि वो और उसका बॉयफ्रेंड म्यूजियम से निकलने के बाद उस गुड़िया का मजाक बनाते ही जा रहे थे| तभी अचानक उनकी बाइक का नियंत्रण बिगड़ गया| जबकि बाइक में कही कोई दिक्कत नहीं थी, रास्ता भी साफ़ ही था| और हमारी बाइक पेड़ से टकरा गयी| और उनके बॉयफ्रेंड की मौत हो गयी और उसे भी बहुत चोट आई |

वारेन का कहना था “आप को शैतान को चैलेंज नहीं करना चाहिए क्योकि कोई भी इंसान उनसे ज्यादा शक्तिशाली नही होता है।”

Warren family
लॉरेन रीटा वॉरेन         और     एडवर्ड वॉरेन

एडवर्ड वॉरेन और लॉरेन रीटा वॉरेन अमेरिकी पैरानॉर्मल एक्टिविटीज इन्वेस्टिगेटर्स थे। इन्होंने कई भुतहा मामले सुलझाए हैं। इनमें से ही एक एनाबेले डॉल केस था। एड और लॉरेन वॉरेन द्वारा सुलझाए गए कई घटनाक्रमों पर फिल्में भी बन चुकी है।

1952 एडवर्ड ने मानसिक अनुसंधान के लिए न्यू इंग्लैंड सोसाइटी की स्थापना की। इसके बाद द वॉरेंस ऑकल्ट म्यूजिम भी खोला। दोनों का दावा था कि उन्होंने अपने करियर के दौरान लगभग 10,000 भुतहा मामले सुलझाए थे।

All images source – google images

यहाँ क्लिक करें और यह कहानी भी पढ़े – पुरानी हवेली का राज़ 

आपको यह कहानी Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी कैसी लगी ? आप किस प्रकार की कहानियाँ कहानी संसार पर पढ़ना चाहते है। कमेन्ट बाॅक्स में जाकर जरूर बताएँ।

यह भी पढ़े – झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के जीवन से जुड़े 67 रोचक तथ्य

आपके पास भी  अगर कोई motivational article, tips या आपके जीवन का कोई ऐसा अनुभव जो किसी के लिए Motivation बन सकता है तो उसे हमारे साथ साझा करें|

अगर आप कोई लेख(essay) लिख सकते है , कविता (poem), कहानी (story) या अन्य कोई भी सामग्री जो लोगों को knowledge, information, entertainment प्रदान कर सकें तो आप उसे हिंदी में लिख कर मुझे जरूर भेजें l

आपके द्वारा भेजी गई सामग्री को आपके नाम के साथ और फोटो ,पता आदि के साथ यदि आप चाहे , प्रकाशित करेंगे l

कहानी संसार की कहानियो की निरंतर सूचना पाने के लिए कहानी संसार को सब्सक्राइब करना न भूलें। कहानी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें|

नोट – यहां साझा की गई यह कहानी Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी मेरी मूल रचना नहीं है। मैंने इसे पहले पढ़ा है या सुना है और मैं कुछ संशोधनों के साथ ही इसका एक हिंदी संस्करण प्रदान कर रहा हूं। मेरा मूल उद्देश्य कहानियो के माध्यम से समाज को प्रेरित करना और अपने पाठको का मनोरंजन करना है|

 

4 thoughts on “Most Horror Real Hindi story of Haunted doll Annabelle शापित गुड़िया एन्नाबेले की सच्ची कहानी  ”

  1. Amazing Artice Written. I am very much glad to read your article.
    I am Following Your From Last 6 Month- Brother and really linking the stuff
    you post on your blog on Regular Basis.
    Keep Posting blogs like this….. Thanks alot

    1. thanks for comment bro,
      but for your information I have started my blog last month June 2018. How it is possible that you following me last 6 months.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *